मानव शरीर के बाहरी अंग एवं उनके कार्य

मानव शरीर प्रकृति की एक अनुपम देन है। जो एक बड़ी मशीन की तरह होती है। मानव शरीर कई अंगों से मिलकर बना होता है। जिसका अपना अलग – अलग कार्य होता है। कुछ अंग हमें आँखों से दिखाई देते हैं तथा कुछ अंग हमें आँखों से नही दिखाई देते हैं।

जो अंग हम आँखों से देख सकते हैं,उन्हें बाह्य अंग कहते हैं। तथा जो अंग हम आँखों से नहीं देख सकते हैं उन्हें आंतरिक अंग कहते हैं। यहाँ पर हम केवल बाहरी अंगों के बारे में चर्चा करेंगे।

हमारे शरीर में कितनी ज्ञानेन्द्रियाँ होती है ?

हमारे शरीर में पाँच ज्ञानेन्द्रियाँ होती हैं जो हमें हमारे आस – पास के विषय में जानकारी देतीं हैं।

  • आँख
  • कान
  • नाक
  • जीभ
  • त्वचा

शरीर के बाह्य अंगों के नाम एवं उनके कार्य

हमारे शरीर के वे सभी अंग जिसे हम देख सकते हैं, शरीर के बाह्य अंग कहलाते हैं। इन सभी बाह्य अंगों के अलग – अलग कार्य होते हैं। 

सिर

शरीर के सबसे ऊपरी भाग को सिर कहते हैं। इसी में ही आँख, कान, नाक, जीभ व मुँह  जैसे अंग होते हैं।

  • आँख :- आँखों के द्वारा हम बाहर की सभी वस्तुओं को देखते हैं।
  • कान :- कान के द्वारा हम दूसरों की बातों को सुनते हैं।
  • नाक :- नाक के द्वारा हम सूंघ कर सुगंध तथा दुर्गन्ध का पता लगाते हैं। सांस लेने का कार्य भी हम नाक से ही करते हैं।
  • मुँह :- मुँह से हम बोलते हैं तथा खाने – पीने की चीजें ग्रहण करते हैं।
  • बाल :- बाल गर्मी और धूप से हमारी रक्षा करते हैं।

गर्दन 

गर्दन सिर को शरीर से जोड़ती है। गर्दन की सहायता से ही हम अपना सिर इधर -उधर घुमा पाते हैं।

हाथ और अंगुलियाँ 

हाथों की सहायता से हम अपना कार्य करते हैं। तथा अंगुलियों की सहायता से हम वस्तुओं को पकड़ने और उठाने का कार्य करते हैं। अँगुलियों की सहायता से ही हम लिखने तथा खाने का कार्य करते हैं।

पैर 

पैर से हम चलते हैं। पैर और पैर की अंगुलियों की सहायता से ही हम दौड़ने, घूमने और साइकिल चलाने का कार्य करते हैं।

इसे भी पढ़ें – 

हैजा रोग कैसे फैलता है, हैजा रोग के लक्षण बचाव के उपाय एवं उपचार

डेंगू रोग कैसे फैलता है, डेंगू रोग के लक्षण एवं बचाव

मलेरिया रोग कैसे फैलता है, मलेरिया रोग के लक्षण एवं उपचार

चिकित्सा सम्बन्धी खोज एवं खोजकर्ता के नाम

एड्स क्या है ? एड्स कैसे होता है, एड्स के लक्षण एवं बचने हेतु सावधनियाँ

विटामिन क्या है? विटामिन के प्रकार एवं विटामिन की कमी से होने वाले रोग

सौरमंडल के बारे मे सामान्य जानकारी (About solar system in hindi)

रक्त परिसंचरण तंत्र (Circulatory System)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *